SC/ST एक्ट के ब्लैकमेल से पुजारी ने की आत्महत्या? रिटायर्ड पुलिसकर्मी लगातार दे रहा था धमकी, परिजनों ने लगाए गंभीर आरोप

अलवर: राजस्थान के अलवर में पुजारी ने दुःखद आत्महत्या कर ली है। पुजारी की हत्या से इलाक़े में हड़कंप मच गया है। शहर के शिव हनुमान मंदिर मरेठिया का बास के पुजारी रामवतार शर्मा ने बुधवार को अपने कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर लिया। पुजारी की मौत पर परिजनों ने एक रिटायर्ड पुलिसकर्मी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

SC/ST एक्ट लगने से अवसाद में थे पुजारी

मृतक के परिवारजनों ने रिटायर पुलिसकर्मी धनीराम खटीक सहित अन्य दो लोगों पर ब्लैकमेल करने और धमकाने का आरोप लगाया है। पुजारी के भाई नीरज शर्मा ने हमसे बातचीत में बताया कि निलंबित पुलिसकर्मी धनीराम ने उनके भाई के ऊपर SC/ST एक्ट में मुकदमा दर्ज करवाया था। जिसे लेकर धनीराम और तीन अन्य लोग पुजारी को लगातार ब्लैकमेल कर रहे थे।

यह था पूरा मामला

आपको बता दें अखिलेश शर्मा पुत्र रामावतार शर्मा अलवर शहर के राठ नगर में मंदिर की पूजा -पाठ कर जीवन यापन करते थे। मृतक पुजारी के भाई ने हमें बताया कि वहीं रिटायर पुलिसकर्मी धनीराम, शैलेश खंडेलवाल और हर्षवर्धन से उनका आपस में कुछ विवाद हुआ था। हल्की कहसुनी के बाद पुजारी अखिलेश शर्मा को लगातार SC/ST एक्ट में मुकदमा दर्ज कराने की धमकी मिलने लगी। जिसके कारण वह तनाव में आता गया। पुजारी को ब्लैकमेल करने वाले लगातार दबाव बनाते गए। उन्हें बार-बार धमकियां देने लगे। पुजारी से मामले में समझौते के लिए एक लाख रुपए की मांग भी की जा रही थी। इस कारण पुजारी परेशान होकर तनाव में आते गए। आखिर पुजारी ने सुसाइड कर लिया। मृतक के परिजनों ने पुलिस को इस पुजारी के सुसाइड करने की यह रिपोर्ट दी है। अब पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिसकर्मी के बारे में यह बताया जा रहा है कि धनीराम रिश्वत लेने पर सस्पेंड भी हो गए थे।